प्रेमिका के चक्कर में भीम आर्मी का संस्थापक गिरफ्तार, सहारनपुर में हाई अलर्ट

सहारनपुर। पिछले कई महीनों से दंगे की आग में जल रहे सहारनपुर को शायद अमन के लिए अभी और इंतज़ार करना पड़ेगा क्योंकि भीम आर्मी सेना के संस्थापक चंद्रशेखर को सहारनपुर और एसटीएफ पुलिस ने हिमाचल से गिरफ्तार कर लिया है। पहले तो अधिकारी इस सुचना को उजागर नही करना चाहते थे लेकिन मीडीया में हाई लाइट होने के बाद अधिकारीयों को अपनी चुप्पी छोडनी पड़ी, सहारनपुर प्रसासन ने बताया कि हिमाचल के डलहौजी से एसटीएफ और सहारनपुर पुलिस की टीम के संयुक्त ऑपरेशन में भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर को गिरफ्तार किया है। आपको यह भी बता दें कि भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर को पुलिस टीम हिमाचल से लेकर सहारनपुर के लिए रवाना भी हो चुकी है।




गिरफ्तारी के बाद सहारनपुर प्रसाशन ने आनन-फानन में बुलाई मीटिंग

भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ़ रावण की गिरफ्तारी की खबर मिलते ही सहारनपुर प्रसाशन ने आनन फानन में पुलिस प्रशासन की मीटिंग बुला सभी अधिकारीयों को गिरफ्तारी से अवगत कराया और सहारनपुर में गिरफ्तारी से हिंसा ना भडके इसके लिए मंडलायुक्त ने सभी पुलिस और प्रशासनिक अफसरों के साथ मीटिंग कर सहारनपुर के चप्पे चप्पे पर पुलिस बल तैनात कर दिया और आगे की रणनीति तय की जा रही है। आपको बता दें की खुद को भीम आर्मी सेना का संस्थापक बताने वाले चंद्रशेखर उर्फ़ रावण जिस पर सहारनपुर में हुई जातीय हिंसाओं की घटनाओं की आग में भड़काने के आरोप में कई मुकदमे दर्ज हैं। जिसके बाद पहले एसएसपी सहारनपुर द्वारा इसपर 5 हजार का इनाम रखा गया था, और इसके बाद डी आईजी स्तर से रावण पर 12,000 रूपये का इनाम रखा गया था, सहारनपुर में हुई सिलसिलेवार घटनाओं के बाद से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। डीआईजी सहारनपुर केएस इमैनुअल ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया था कि चंद्रशेखर की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ से मदद मांगी गई है। और एसटीएफ की एक स्पेशल टीम सहारनपुर पुलिस के साथ चंद्रशेखर की गिरफ्त घेराबंदी में लगी हुई थी




प्रेमिका के चक्कर में फंसा रावण

एक रावण का अंत कन्या के लिए श्रीलंका में हुआ था, दूसरे रावण के रूप में जन्में इस रावण भक्त चंद्रशेखर की गिरफ्तारी का अंत उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले से हुआ जिससे अब कई राज खुलने की उम्मीद है। चंद्रशेखर को पुलिस तलाश रही थी और वह बार-बार ऑडियो और वीडियो वायरल किए जा रहा था। यह ऑडियो और वीडियो कहां से वायरल किए जा रहे थे, इसकी जानकारी भी पुलिस को नहीं लग पा रही थी। लेकिन पुलिस की टीम को सूत्रों से मिलिजानकारी से उन्होंने चंद्रशेखर उर्फ़ रावण की प्रेमिकाओं की सूचि तियार कर उनके नम्बर सर्विलांस पर लगा दिए थे जिसके चलते वह पुलिस गिरफ्त में आ गया



लोकेशन बदलने का माहिर था चन्द्रशेखर उर्फ़ रावण

मिली जानकारी के अनुसार हिमाचल के डलहौजी से पकड़े जाने से पहले चन्द्रशेखर उर्फ़ रावण दिन में दो बार अपने ठिकाने को बदलता था, लेकिन एक गर्लफ्रेंड के चक्कर में चन्द्रशेखर उर्फ़ रावण पुलिस के हत्थे चढ़ गया, पुलिस ने रावण की एक कथित प्रेमिका का पता निकाल कर उससे रावण को मेसेज करवाया की मैं तुमसे मिलना चाहती हूँ इस झांसे में आकर चन्द्रशेखर उर्फ़ रावण फंस गया यह भी माना जा रहा है की जैसे ही उसने दरवाज़ा खोला तो अपने सामने कमांडो देख कर हैरान हो गया और खुद को पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया



Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!